आज हम आपको भारत की उन जगहों के बारे में बनाते जा रहे है जहा पर आप जाना भी चाहते है और उस जगहों से आपको डर भी लगता है जी हा हम बात करने जा रहे है top 5 most haunted places in india, वैसे तो ज्यादातर लोग कब्रिस्तान, किले, और छोड़े गए घरों को भूतीया माना जाता है, लेकिन भारत के सबसे बड़े स्थानों में स्कूल और अस्पताल भवन, पुस्तकालय, होटल, न्यायालय, महल और मेट्रो स्टेशन भी भूतीया जगहों में शामिल हैं। उदाहरण के लिए, शिमला में प्रेतवाधित स्थानों में कॉन्वेंट ऑफ ईसाई और मैरी और इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज शामिल हैं। कोलकाता के प्रेतवाले स्थानों में एक मेट्रो स्टेशन और एक पुस्तकालय भी शामिल है। भारत में बहुत से लोग तो इन जगहों को भुतीया मानते है पर कुछ लोग इसे पुरानी कहानी कहकर इस बात को टाल देते है लेकिन भारत के लोगो का कहना है की यह जहागा सच में भतीय है तो चलिए पता करते है की यह बात सच है या एक कहानी और क्या है इन जगहों का भुतीया होने का कारण

 

Top 5 most haunted places in india

 

1.Bhangarh Fort

भानगढ़ को भारत का सबसे भुतीया स्थल माना जनता है इस किले में लोगो को सूर्यास्‍त के बाद प्रवेश निषेध यह किला भारत सरकार की देखरेख में है चलये पता करते है इसका भुतीया होने का कारण भानगड़ किला जो देखने में जितना शानदार है उसका अतीत उतना ही भयानक है। एक कहानी के अनुसार भागगड़ में रत्‍नावती नाम की  राजकुमारी रहती थी जो कि अपने नाम की तरह ही बेहद खुबसुरत थी। इसी कारण उन्हें कई राज्‍यो विवाह के प्रस्‍ताव आ रहे थे। और उन्हें हर कोई अपना बनाना चा रह था इस बार जब राजकुमारी रत्‍नावती अपनी सखियों के साथ बाजार में एक इत्र की दुकान पर पहुंची और वो इत्रों को हाथों में लेकर उसकी खुशबू ले रही थी। उसी समय उस दुकान से कुछ ही दूरी एक सिंघीया नाम व्‍यक्ति खड़ा होकर उन्‍हे बहुत ही गौर से देख रहा था। वो किसी भी तरह राजकुमारी को हासिल करना चाहता था। इसलिए उसने उस दुकान के पास आकर उस इत्र की बोतल पर काला जादू कर दिया जैसे  राजकुमारी रत्‍नावती रानी पसंद कर रही थी यह काला जादू उसने राजकुमारी रत्‍नावती के वशीकरण के लिए किया था। पर राजकुमारी रत्‍नावती के हाथ से इत्र की बोतल एक पत्‍थर पर गिर कर टूट गयी और सारा इत्र उस पत्‍थर पर बिखर गया। जिसके कारण वो पत्‍थर फिसलते हुए उस तांत्रिक सिंघीया के पीछे चल पड़ा और तांत्रिक को कुचल दिया तांत्रिक ने मरने से पहले शाप दिया कि इस किले में रहने वालें सभी लोग जल्‍द ही मर जायेंगे और वो दोबारा जन्‍म नहीं ले सकेंगे और ताउम्र उनकी आत्‍माएं इस किले में भटकती रहेंगी। उस तांत्रिक के मौत के कुछ दिनों के बाद ही भानगडं और अजबगढ़ के बीच युद्व हुआ जिसमें किले में रहने वाले सारे लोग मारे गये। यहां तक की राजकुमारी रत्‍नावती भी उस शाप से नहीं बच सकी और उनकी भी मौत हो गयी। एक ही किले में एक साथ इतने बड़े कत्‍लेआम के बाद वहां मौत की चींखें गूंज गयी और आज भी उस किले में उनकी रू‍हें घुमती हैं।

 

2.Brij Raj Bhavan in Kota

ऐसा ही एक शहर है कोटा जो यूं तो पूरे भारत वर्ष में शिक्षा के लिए प्रसिद्ध है लेकिन राजस्थान का यह शहर भी कई एतिहासिक घटनाओं का धनी है यह भारत के top 5 most haunted places in india शामिल है इस भवन का नाम है ब्रिज राज भवन पैलेस लगभग 178 साल पुराना है 1980 में इस भवन को एक ऐतिहासिक होटल घोषित कर दिया गया कहा जाता है कि इस होटल में मेजर बर्टन नाम का एक भूत रहता है जो ब्रिटिश शासन काल में कोटा में सेवारत था और 1857 के विद्रोह के दौरान उसे भारतीय सिपाहियों ने मार दिया था। भारतीय सिपाहियों ने इस विद्रोह के दौरान मेजर के साथ उसके दो बेटों को भी इसी बंगले के सेंट्रल हॉल में मार दिया था। कोटा की पूर्व महारानी का कहना है कि उन्होंने 1980 में मेजर को उसी हॉल में देखा था जहां उन्हें मार दिया गया था उस समय महारानी इस हॉल को अपने ड्राइंग रूम के रूप में उपयोग में लाती थीं। लोगों का कहना है कि यह भूत किसी को कोई नुक्सान नहीं पहुंचता लेकिन यदि रात्रि में ड्यूटी के दौरान कोई गार्ड सोते हुए मिलता है तो यह भूत उसमे तमाचे रसीद कर उसे अपनी ड्यूटी याद करा देता है।

 

3.Kuldhara in Rajasthan

200 सालों से विरान एक गांव, जहां रात में जाना मना है जी हा हम बात कर रहे है कुलधारा गांव की जो की भारत के डरावने स्थलों में से एक है चलये पता करते है कुलधारा गांव के भुतीय होने का कारण – भानगढ़ के किले की तरह यह गांव भी अचानक ही एक रात में विरान हो गया। उसके बाद से इस गांव में कोई भी बस नहीं पाया। इस गांव के विराने में भी भानगढ़ के किले की तरह एक खूबसूरत लड़की की दास्तान छुपी हुई है। माना जाता है कि 1825 के आस-पास यह पालीवाल ब्राह्मणों का गांव हुआ करता था। पालीवाल ब्राह्मण के पूर्वजों का संबंध भगवान श्री कृष्ण की पत्नी रुक्मिणी से जुड़ा हुआ है। माना जाता है कि पालीवान ब्रह्मण इनके पुरोहित हुआ करते थे। लेकिन जबकि यह घटना है उन दिनों पालीवान किसान हुआ करते थे। यह कृषि के अलावा भवन निर्माण कला में निपुण थे। राज्य के दूसरे गांवों से यह गांव खुशहाल और संपन्न हुआ करता था। इस गांव के मुखिया की एक बहुत ही सुंदर बेटी थी। जिसके रुप की चर्चा कुलधारा से निकलकर जैसलमेर तक पहुंच चुकी थी। जैसलमेर का दीवान सालिम सिंह मुखिया की बेटी के रुप पर मोहित हो गया और उसे अपने हरम में लाना चाहता था। इसके लिए सालिम सिंह ने मुखिया और गांव वालों पर दबाव बनाने लगा। ऐसे में एक रात गांव वालों की पंचायत बुलाई गई और अपने मान-सम्मान की रक्षा के लिए पूरा का पूरा गांव रातों रात गांव छोड़कर कहीं चला गया। कहते हैं कि जाते जाते पालीवाल ब्राह्मणों ने गांव को शाप दे दिया कि अब यह कभी दुबारा बस नहीं पाएगा। तब से यह गांव विरान पड़ा हुआ है। कहते हैं कि यहां रात में भूत-प्रेत और अजब-अजब सी आवाजें आती हैं। इसलिए गांव के बाहर एक बड़ा सा दरवाजा लगा दिया गया है। दिन में लोग इस दरवाजे से गांव में जाकर गांव घूम सकते हैं लेकिन रात में इस गांव में कोई नहीं जाता है।

 

4.Dumas Black Sand Beach in Surat

अरब सागर से लगा हुआ यह बीच सूरत से 21 किलोमीटर की दूरी पर है। यहां की रेत सफेद नहीं बल्क‍ि काली होती है। इस बीच का इतिहास किसी राजा या रानी की प्रेम कथा से नहीं जुड़ा है, लेकिन हां लोगों का मानना है कि सदियों पहले यहां पर भूत-प्रेतों ने अपना गढ़ बना लिया और इसीलिये यहां की रेत काली हो गई। हां एक बात जरूर है कि इस बीच से लगा हुआ शव दाह ग्रह है। यहां पर लाशें जलायी जाती हैं। लोगों का मनना है कि जिन लोगों को मोक्ष प्राप्त नहीं होता है, या जिनकी असमय मृत्यु हो जाती है, उनकी रूह इस बीच पर बसेरा कर लेती है।

5.Charleville Mansion in Shimla

शिलेला की पहाड़ियों में स्थित शेरविले हवेली एक मशहूर हवेली है। एक ब्रिटिश आदमी विक्टर बेले को रेलवे बोर्ड के सहायक सचिव के रूप में नियुक्त किया गया था और अक्टूबर 1 9 13 में शिमला में तैनात किया गया था। विक्टर और उनकी पत्नी ने उनके लिए एक आदर्श घर की तलाश में काफी समय बिताया और इसके स्थान और कम होने के कारण चार्लेविले हवेली के लिए बस गए किराए पर। लेकिन उन्हें यह नहीं पता था कि घर एक ध्रुवीयवादी होने के लिए जाना जाता था। वास्तव में उनके सामने, एक सेना अधिकारी उस हवेली में रहते थे। भले ही वह भूतों पर विश्वास नहीं करता, फिर भी वह उस घर के आस-पास के रहस्य की प्रामाणिकता का परीक्षण करना चाहता था। इसलिए उन्होंने उस कमरे को लॉक करने का फैसला किया जहां ज्यादातर प्रेतवाधित गतिविधियों की सूचना दी गई थी।

6.Delhi Cantonment Area

रास्ते हमें एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने के लिए होते हैं। इन रास्तों में कुछ तो ऐसे होते हैं जिन पर जाने से आप मंजिल से भटक जाते हैं और पता ही नहीं चलता आप कहां जा रहे हैं। दिल्ली कंटोनमेंट रोड ऐसी ही एक जगह है। यहां जितनी भूतिया घटनाएं होती हैं उतनी किसी दूसरी सड़क पर नहीं होती। अगर आप भी इस रास्ते से गुजरने की सोच रहे हैं तो एक बार फिर से सोच लें। कंटोनमेंट रोड दिल्ली की सबसे भूतिया मानी जाती है और लोगों का कहना है कि रात के वक्त यहां पर एक औरत सफेद साड़ी में दिखाई देती है। लोगों का मानना है कि शायद इस औरत की किसी दुर्घटना में मौत हो गई होगी तब से उसकी आत्मा इसी इलाके में लोगों से मदद की गुहार लगा रही है। जो रात में यहां से गुजरने वाले मोटरसाइकल और कार सवारों से लिफ्ट मांगती है। कहते हैं जिन लोगों ने इस महिला को लिफ्ट दी है आज तक उनका कोई पता नहीं चल सका है। अगर कोई व्यक्ति उसके लिफ्ट मांगने पर नहीं रुकता है तो भूतनी को गुस्सा आ जाता है और वह गाड़ी की रफ्तार के साथ भागते हुए उस व्यक्ति का पीछा करती है और उसे गिरा देती है। शायद ही कोई दिन ऐसा गुजरा हो जब इस सड़क पर कुछ अजीब न हुआ हो। कुछ लोगों का मानना है कि वो औरत द्वारका सेक्टर 9 के आस-पास भी भटकती हुई नजर आती है। भूत-प्रेत इस दुनिया में होते हैं या नहीं इस बात की पुष्टि करना तो बेहद मुश्किल है, लेकिन ‘भूत’ का नाम सुनते ही अच्छे से अच्छे लोगों के मन में डर की लहर जरूर दौड़ जाती है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here