Hindi news – MS Dhoni – वर्तमान में धोनी 2011 से पैराशूट रेजिमेंट की प्रादेशिक सेना में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल हैं और अभिनव बिंद्रा और निकट युद्ध युद्ध विशेषज्ञ दीपक राव के साथ इस समझौते को मान्यता दी गई थी। एक योग्य अर्ध-सैनिक बनने के लिए, पूर्व-भारतीय कप्तान को अपने आगरा प्रशिक्षण शिविर में भारतीय सेना के विमान से पांच पैराशूट प्रशिक्षण कूद पूरी करनी थी।

MS Dhoni – 2011 में धोनी को रैंक दिए जाने के बाद, उन्होंने कहा था, “बचपन से, मैं सेना में शामिल होना चाहता था। मैं छावनी क्षेत्र का दौरा करता था और सैनिकों को देखकर मुझे लगता था कि एक दिन मैं भी उनके बीच रहूंगा। ” इससे पहले, मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने धोनी की अनुपलब्धता के बारे में कहा था:

MS Dhoni

उन्होंने कहा, “वह (एमएस धोनी) इस श्रृंखला के लिए अनुपलब्ध हैं। उन्होंने अपनी अनुपलब्धता व्यक्त की है। यह कहते हुए कि, हमारे पास विश्व कप तक कुछ निश्चित रोड मैप थे। इसके बाद, विश्व कप के बाद, हमने कुछ और योजनाएँ रखी हैं। हमने ऋषभ पंत को देखने के कई अवसर देने की सोची। अभी हमारी यह योजना है, ”एमएसके प्रसाद ने मुंबई में प्रेस को बताया।

MS Dhoni – विश्व कप 2019 (विश्व कप 2019) में टीम इंडिया (टीम इंडिया) के सेमीफाइनल में आउट होने के बाद हर जगह गेंद धोनी (एमएस धोनी) का रिटायरमेंट हॉट टॉपिक रहा। हर जगह खबरें आने लगीं कि विश्व कप के बाद धोनी (एमएस धोनी) रिटायरमेंट ले लेंगे। लेकिन धोनी (एमएस धोनी) का कुछ और ही प्लान है। वह वर्तमान में रिटायरमेंट के मूड में नहीं है। वे भारतीय आर्मी (भारतीय सेना) के साथ 2 महीने तक ट्रेनिंग करेंगे। जिसके लिए वे वेस्टइंडीज का दौरा (वेस्टइंडीज का भारत दौरा) के लिए उपलब्ध नहीं रहेंगे।

MS Dhoni

MS Dhoni

MS Dhoni – न्यू एजेंसी ANI के मुताबिक, एमएस दोनी ने भारतीय सेना के साथ ट्रेनिंग करने की इजाजत मांगी थी. उनकी रिक्वेस्ट को मान लिया गया है. थल सेना अध्यक्ष बिपिन रावत ने उनको इजाजत दे दी है. ट्वीट में बताया गया है कि धोनी पैराशूट रेजीमेंट बटालियन के साथ ट्रेनिंग लेंगे. वो ट्रेनिंग के लिए जम्मू-कश्मीर भी जा सकते हैं. लेकिन आर्मी धोनी को किसी भी एक्टिव ऑपरेशन में पार्ट नहीं लेने देगी.

MS Dhoni – बता दें, आईपीएल में उनका लंबा सत्र रहा था और फिर चोट के बावजूद वह विश्व कप में खेले थे. जिसके बाद अब उन्होंने क्रिकेट से आराम लेने का फैसला लिया है और भारतीय आर्मी के साथ ट्रेनिंग लेने जा रहे हैं. सूत्रों ने बताया- ‘इससे पहले कि वेस्टइंडीज दौरे के लिए चयनकर्ता रविवार को मुंबई में टीम का ऐलान करेंगे, उन्होंने पहले ही बोर्ड को बता दिया है कि वह अगले दो महीनों तक आर्मी रेजिमेंट के साथ बिताएंगे। इसके संन्यास से कोई लेना देना नहीं है.’

धोनी टैरिटोरियल आर्मी की पैराशूट रेजिमेंट में लेफ्टिनेंट कर्नल हैं. इससे पहले, कप्तान विराट कोहली ने यह स्पष्ट कर दिया था कि धोनी के भविष्य को लेकर टीम प्रबंधन को उनकी तरफ से कोई जानकारी नहीं मिली है.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here