दृष्टिहीन लोगों के लिए गूगल का Lookout एप किसी वरदान से कम नहीं

google lookout – कैलीफोर्निया के माउंट व्यू में आयोजित हुए गूगल के वार्षिक सम्मेलन में इस बार कई तरहे के इनोवेशन को पेश किया गया। इनमें ‘गूगल डूप्लेक्स’ के साथ ‘गूगल लुकआउट’ ऐसा फीचर है यह एक ऐसा फीचर है जिसने बहुत ही जल्द सुर्खियां बटोरनी शुरू कर दी है। यह एक ऐसा फीचर है जिसके चलते गूगल को इससे आने वाले समय में बहुत लाभ हो है यह यह लोगो की मदद करने में बहुत ही अच्छा हो सकता है

दरसल गूगल ने अपने वार्षिक सम्मेलन में यह बताया कि हमारी कंपनी बहुत ही  जल्द Lookout नाम की एक ऐप को लॉन्चि करने जा रहे है जो की दृष्टिहीन लोगों की मदद करेगा। गूगल के ‘लुकआउट’ एप की मदद से दृष्टिहीन लोग अपने आस-पास के वातावरण, चीजों और लोगों को महसूस कर सकेंगे। ‘लुकआउट’x एप के फीचर्स को लेकर गूगल के सेंट्रल एक्सेसिबिलिटी टीम के प्रोडक्टल मैनेजर ने एक आधिकारिक ब्लॉीग में कई जानकारी दी है।

Google Lookout

इंसानों की तरह काम करेगा ‘google lookout’ एप

गूगल का ‘लुकआउट’ एप किसी इंसान की तरह दृष्टिहीन व्यक्ति की तरह मदद करेगा। आसान भाषा में समझाएं तो अगर कोई द्रष्टिहीन व्यक्ति मेट्रो स्टेशन पर खड़ा हो, तो एप फोन के कैमरे की मदद से अगल-बगल की सारी चीजों को देखकर ईयरफोन के जरिए आपकी भाषा में जानकारी देगा। एप ट्रेन, लोगों, टाइम और दीवार पर लगे बैनर्स तक के बारे में जानकारी देगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक एप सामने से गुजरने वाले व्यक्ति से लेकर किसी बैनर पर लिखे शब्दों की भी जानकारी देगा।

 

google lookout – बिना इंटरनेट के भी काम करेगा एप

रिपोर्ट्स की माने तो एप बिना इंटरनेट कनेक्शन के भी काम करेगा। यानी दृष्टिहीन व्यक्ति कहीं भी और कहीं भी असल जिंदगी का अनुभव ले सकते हैं।

 

google lookout – एप 4 मोड में करेगा काम

रिपोर्ट्स के मुताबिक एप 4 मोड में काम करेगा। इनमें वर्क, होम, प्ले और एक्सपेरीमेंटल शामिल है। व्यक्ति अपनी सुविधा के मुताबिक मोड को चुन सकेंगे।

इस तरह करेगा काम

एप को इस्तेमाल करने के लिए एक खास एंड्रॉयड डिवाइस दिया जाएगा जो पॉकेट में लगा होगा। एक के साथ एक बॉडी कैम मिलेगा जिसे कॉलर या शर्ट पर लगाया जा सकेगा साथ ही ईयरफोन मिलेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *